Skip to main content

Latest News

कोरोना संकट के बीच पीएम मोदी आज फिर रात आठ बजे देश को करेंगे संबोधित, लॉकडाउन बढ़ाने पे हो सकता ऐलान

News Byte

नई दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी संकट के बीच देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज रात 8 बजे देश को संबोधित करेंगे. पीएम मोदी का यह संबोधन लॉकडाउन को लेकर सोमवार को राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ हुई बैठक के कुछ घंटों बाद होगा. सूत्रों की ओर से सोमवार को दी गई जानकारी के मुताबिक, देश में 17 मई के बाद भी लॉकडाउन बढ़ाया जा सकता है. मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में लॉकडाउन आगे किस रूप में होगा इसके लिए प्रधानमंत्री ने सभी राज्यों से 15 मई तक सुझाव मांगे हैं. सूत्रों ने कहा कि कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित क्षेत्रों में रात्रि कर्फ्यू और सीमित परिवहन व्यवस्था जैसे प्रतिबंध भी लागू रह सकते हैं.

इससे पहले लॉकडाउन को पूरी तरह नहीं हटाने, बल्कि प्रतिबंधों में धीरे-धीरे छूट देने का संकेत देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा था कि "उनका दृढ़ मत है कि लॉकडाउन के पहले तीन चरणों में जिन उपायों की जरूरत थी, वे चौथे में जरूरी नहीं हैं." उन्होंने मुख्यमंत्रियों से 15 मई तक व्यापक रणनीति के लिए सुझाव देने को कहा कि वे अपने-अपने राज्यों में लॉकडाउन की व्यवस्था से कैसे निपटना चाहते हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को मुख्यमंत्रियों के साथ कोरोना वायरस महामारी से उत्पन्न स्थिति पर विस्तृत चर्चा की और कहा था कि देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए संतुलित रणनीति बनाने की जरूरत है और इस पर ध्यान देने की जरूरत है कि गांव इस महामारी से मुक्त रहें. 25 मार्च से जारी 54 दिन का लॉकडाउन 17 मई को समाप्त होने वाला है. कोरोनो वायरस को फैलने से रोकने के लिए यह लगाया गया था.

 

Read more

दुनिया भर में बढ़ता कोरोना का कहर, अबतक 42 लाख से ज्यादा संक्रमित, दो लाख 87 हजार की मौत

News Byte

कोरोना वायरस: देश और दुनियाभर में कोरोना वायरस का कहर तेजी से फ़ैल रहा है. कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. 212 देशों में पिछले 24 घंटे में 74,228 नए कोरोना के मामले सामने आए और मरने वाले लोगों की संख्या में 3,403 का इजाफा हो गया. वर्ल्डोमीटर के मुताबिक, दुनियाभर में अब तक 42 लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं. इनमें से 2 लाख 87 हजार 137 लोगों की मौत भी हो चुकी है. वहीं 15 लाख 26 हजार 975 लोग संक्रमण मुक्त भी हुए हैं. दुनिया के करीब 73 फीसदी कोरोना के मामले सिर्फ दस देशों से आए हैं. इन देशों में कोरोना पीड़ितों की संख्या करीब 31 लाख है.

दुनियाभर के कुल मामलों में से करीब एक तिहाई मामले अमेरिका में सामने आए हैं और करीब एक तिहाई मौतें भी अमेरिका में हुई हैं. अमेरिका के बाद यूके में कोरोना ने सबसे ज्यादा कहर बरपाया है. जहां 32,065 लोगों की मौतों के साथ कुल 223,060 लोग वायरस से संक्रमित हो चुके हैं. जबकि यूके में मरीजों की संख्या स्पेन से कम है. इसके बाद रूस, फ्रांस, जर्मनी, टर्की, ईरान, चीन, ब्राजील, कनाडा जैसे देश सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं.

अमेरिका: केस- 1,385,834,         मौतें- 81,795
स्पेन: केस- 268,143,                  मौतें- 26,744
यूके: केस- 223,060,                    मौतें- 32,065
रूस: केस- 221,344,                    मौतें- 2,009
इटली: केस- 219,814,                 मौतें- 30,739
फ्रांस: केस- 177,423,                   मौतें- 26,643
जर्मनी: केस- 172,576,                मौतें- 7,661
ब्राजील: केस- 169,143,               मौतें- 11,625
टर्की: केस- 139,771,                   मौतें- 3,841
ईरान: केस- 109,286,                  मौतें- 6,685
चीन: केस- 82,918,                     मौतें- 4,633
10 देशों में एक लाख से ज्यादा केस
 

स्पेन, इटली, यूके, रूस में कोरोना मामलों की संख्या दो लाख पार हो चुकी है. इनके अलावा छह देश ऐसे हैं जहां एक लाख से ज्यादा कोरोना केस हैं. अमेरिका समेत इन दस देशों में कुल 30 लाख 86 हजार केस हैं. अमेरिका के अलावा रूस और ब्राजील में भी कोरोना केस तेजी से बढ़ रहे हैं. पांच देश (अमेरिका, स्पेन, इटली, फ्रांस, ब्रिटेन) ऐसे हैं, जहां 25 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. अमेरिका में मौतों का आंकड़ा 81 हजार पार कर गया है. चीन टॉप-10 संक्रमित देशों की लिस्ट से बाहर हो चुका है.

Read more

Lockdown INDIA: आज से चलेंगी स्पेशल ट्रेनें, जानिए पूरी लिस्ट, स्टेशन और ट्रेनों की टाइमिंग

News Byte

नई दिल्ली: देश में बढ़ी कोरोना महामारी संकट के बीच भारतीय रेलवे ने देश के विभिन्न भागों में 12 मई से कुछ यात्री ट्रेनों की सेवाएं शुरू करने की घोषणा की है. सभी ट्रेनें नई दिल्ली से चलेंगी और इनमें एसी कोच होंगे. अब ऐसे में यह सवाल उठना लाजमी है कि कौन सी ट्रेनें चलेंगी, कहां से कहां तक ट्रेनें चलेंगी, इनकी टाइमिंग क्या होगी. इनमें किन यात्रियों को यात्रा करने का अधिकार होगा और इसके लिए क्या शर्तें होंगी. आपको बता दें कि इन ट्रेनों में कोई भी व्यक्ति सफर कर सकता है और उसके पास मान्य टिकट होना जरूरी है.

इसके बाद रेलवे कुछ नए रूट्स पर स्पेशल ट्रेनें चला सकता है, रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बताया कि टिकटों की बुकिंग सोमवार शाम 4 बजे से IRCTC की वेबसाइट के माध्यम से की जाएगी. फिलहाल एजेंट टिकट बुक नहीं कर सकेंगे. यात्रा के टिकट के लिए कहीं भी काउंटर नहीं खोला जाएगा. यात्रा करने से पहले सभी यात्रियों की स्क्रीनिंग होगी और उन्हें मास्क लगाना अनिवार्य होगा. किसी भी यात्री में कोरोना के कोई भी लक्षण पाए जाने पर उन्हें यात्रा की अनुमति नहीं दी जाएगी.

कोरोना संकट और लॉकडाउन के बीच फंसे प्रवासियों को घर पहुंचाने के वास्ते आज से भारतीय रेलवे कुछ यात्री ट्रेनों की सेवा प्रारंभ कर रही है. कोरोना लॉकडाउन के बीच रेल मंत्रालय आज यानी 12 मई से देश की राजधानी नई दिल्ली से देश के विभिन्न हिस्सों के प्रमुख शहरों के लिए 15 जोड़ी ट्रेन चलाने जा रहा है. नई दिल्ली से पटना, रांची, हावड़ा, डिब्रूगढ़, मुंबई, जम्मू तवी, अहमदाबाद सहित 15 रूटों पर एसी स्पेशल ट्रेनें चलेंगी, रेलवे ने स्पेशल ट्रेनों के लिए टाइम टेबल की घोषणा कर दी है. इनमें से कुछ ट्रेनें हर दिन चलेंगी तो कुछ सप्ताह में दो दिन और कुछ साप्ताहिक हैं. यहां ध्यान देने वाली बात है कि ये सभी ट्रेनें एसी हैं, जिसका किराया राजधानी के समान है.

अगर आप भी इन ट्रेनों का सफर कर घर जाना चाहते हैं तो आप भी जान लें कि कौन-कौन सी ट्रेनें चलेंगी, क्या टाइमिंग होगी और कहां-कहां ट्रेनों का स्टॉपेज होगा:

ट्रेन नंबर - कहां से कहां तक (समय) तिथि व बारम्बारता रास्ते के स्टेशन
02301 - हावड़ा (1705) - नई दिल्ली (1000) 12 मई से रोज़ आसनसोल जंक्शन, धनबाद जंक्शन, पारसनाथ, गया जंक्शन, पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन, प्रयागराज जंक्शन, कानपुर सेंट्रल
02302 - नई दिल्ली (1655) - हावड़ा (0955) 13 मई से रोज़  
02951 - मुंबई सेंट्रल (1730) - नई दिल्ली (0905) 12 मई से रोज़ बोरीवली, सूरत, वडोदरा, रतलाम, नागडा, कोटा
02952 - नई दिल्ली (1655) - मुंबई सेंट्रल (0845) 13 मई से रोज़  
02957 - अहमदाबाद (1820) - नई दिल्ली (0800) 12 मई से रोज़ साबरमती, मेहसाना, पालनपुर, आबू रोड, फालना, अजमेर, जयपुर, गुड़गांव, दिल्ली कैन्ट
02958 - नई दिल्ली (2025) - अहमदाबाद (1005) 13 मई से रोज़  
02309 - राजेंद्र नगर (1920) - नई दिल्ली (0740) 12 मई से रोज़ पटना जंक्शन, पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन, प्रयागराज जंक्शन, कानपुर सेंट्रल
02310 - नई दिल्ली (1715) - राजेंद्र नगर (0530) 13 मई से रोज़  
02691 - बेंगलुरू (2030) - नई दिल्ली (0555) 12 मई से रोज़ श्री सत्य साई प्रशांति निलयम, धर्मवरम जंक्शन, अनंतपुर, गुंटाकल जंक्शन, रायचूर, सेरम, सिकंदराबाद जंक्शन, काज़ीपेट जंक्शन, बलहारशाह, नागपुर, इटारसी जंक्शन, भोपाल जंक्शन, झांसी जंक्शन, ग्वालियर जंक्शन, आगरा कैन्ट
02692 - नई दिल्ली (2115) - बेंगलुरू (0640) 14 मई से रोज़  
02424 - नई दिल्ली (1645) - डिब्रूगढ़ (0700) 12 मई से रोज़ न्यू तिनसुकिया, मरियानी जंक्शन, दीमापुर, दिफू, लम्डिंग जंक्शन, चापरमुख जंक्शन, गुवाहाटी, न्यू बोंगईगांव, कोकराझार, न्यू कूच बिहार, न्यू जलपाईगुड़ी, किशनगंज, कटिहार जंक्शन, नौगचिया, बरौनी जंक्शन, पाटलिपुत्र, दानापुर, पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन, प्रयागराज जंक्शन, कानपुर सेंट्रल
02423 - डिब्रूगढ़ (2110) - नई दिल्ली (1015) 14 मई से रोज़  
02442 - नई दिल्ली (1600) - बिलासपुर (1200) 12 मई से मंगल, शनि रायपुर जंक्शन, दुर्ग, राज नंदगांव, गोंडिया जंक्शन, नागपुर, भोपाल, झांसी, ग्वालियर
02441 - बिलासपुर (1440) - नई दिल्ली (1055) 14 मई से सोम, गुरु  
02823 - भुवनेश्वर (1000) - नई दिल्ली (1045) 13 मई से रोज़ कटक, भद्रक, बालासोर, हिजली (खड़गपुर), टाटानगर जंक्शन, मुरी, बोकारो स्टील सिटी, गोमोह जंक्शन, कोडरमा, गया, पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन, कानपुर सेंट्रल
02824 - नई दिल्ली (1705) - भुवनेश्वर (1725) 14 मई से रोज़  
02425 - नई दिल्ली (2110) - जम्मू तवी (0545) 12 मई से रोज़ लुधियाना, पठानकोट कैन्ट, कठुआ
02426 - जम्मू तवी (2010) - नई दिल्ली (0500) 13 मई से रोज़  
02434 - नई दिल्ली (1600) - चेन्नई सेंट्रल (2040) 13 मई से बुध, शुक्र विजयवाड़ा, वारंगल, बलहारशाह, नागपुर, भोपाल, झांसी, ग्वालियर, आगरा
02433 - चेन्नई सेंट्रल (0635) - नई दिल्ली (1030) 15 मई से शुक्र, रवि  
02454 - नई दिल्ली (1530) - रांची (1000) 13 मई से बुध, शनि बरका काना, डाल्टनगंज, गरवा रोड जंक्शन, पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन, प्रयागराज जंक्शन, कानपुर सेंट्रल
02453 - रांची (1740) - नई दिल्ली (1055) 14 मई से गुरु, रवि  
02414 - नई दिल्ली (1125) - मडगांव (1250) 15 मई से शुक्र, शनि तिविम, कुडल, रत्नागिरी, पनवेल, वसई रोड, सूरत, वडोदरा जंक्शन, कोटा जंक्शन
02413 - मडगांव (1030) - नई दिल्ली (1240) 17 मई से सोम, रवि  
02438 - नई दिल्ली (1600) - सिकंदराबाद (1400) 17 मई से रवि काज़ीपेट जंक्शन, बलहारशाह, नागपुर, भोपाल, झांसी
02437 - सिकंदराबाद (1315) - नई दिल्ली (1040) 20 मई से बुध  
02432 - नई दिल्ली (1125) - तिरुअनंतपुरम (0525) 13 मई से मंगल, बुध, रवि कोल्लम, अल्लप्पी, एरनाकुलम जंक्शन, त्रिशूर, शोरानूर, जंक्शन, कोझीकोड, कन्नूर, कासरगोड, मंगलौर, उडुपी, करवार, मडगांव, सावंतवाडी रोड, रत्नागिरी, पनवेल, वसई रोड, वडोदरा, कोटा
02431 - तिरुअनंतपुरम (1945) - नई दिल्ली (1240) 15 मई से मंगल, गुरु, शुक्र  
02501 - अगरतला (1900) - नई दिल्ली (1120) 18 मई से सोम अन्बासा, धर्मनगर, न्यू करीमगंज, बदरपुर जंक्शन, न्यू हैफलॉन्ग, होजई, गुवाहाटी, कामाख्या, रंगिया जंक्शन, बारपेटा रोड, न्यू जलपाईगुड़ी, कटिहार जंक्शन, बरौनी जंक्शन, पाटलिपुत्र, पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन, कानपुर सेंट्रल
02502 - नई दिल्ली (1950) - अगरतला (1330) 20 मई से बुध

पिछले 24 घंटों में कोरोना के 4,213 नए मामले सामने आए हैं और 97 लोगों की मौत हुई है. देश में अभी तक 2,206 लोगों की मौत हो चुकी है, हालांकि 20,917 मरीज इस बीमारी को मात देने में सफल भी हुए हैं.

 

Read more

महाराष्ट्र एमएलसी चुनाव: मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे निर्विरोध चुने जाएंगे विधान परिषद सदस्य

News Byte

मुंबई: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे निर्विरोध विधान परिषद सदस्य (MLC) बनने जाना तय, क्योंकि कांग्रेस अपना एक उम्मीदवार हटाएगी. महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बालासाहेब थोराट ने यह जानकारी दी. कांग्रेस ने रविवार को घोषणा की कि उसने 21 मई को महाराष्ट्र विधान परिषद की नौ सीटों पर होने वाले चुनाव में दो में से एक उम्मीदवार का नाम वापस ले लिया है, इसके साथ ही मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का विधान परिषद का सदस्य चुना जाना तय हो गया है.

महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष बालासाहेब थोराट ने कहा, "हमने विधान परिषद चुनाव के दो उम्मीदवारों में से एक का नाम वापस लेने का फैसला किया है, जिसका मतलब है कि एमवीए (महाविकास आघाड़ी) नौ में से पांच सीटों पर उम्मीदवार उतारेगा." बचे चार पे भाजपा ने अपने उम्मीदवार उतारे हैं.

एमएलसी चुनाव में कांग्रेस की तरफ से दो उम्मीदवारों के नामों की घोषणा के बाद नाराज होकर शिवसेना ने दो टूक कह दिया था कि यदि उद्धव ठाकरे निर्विरोध नहीं चुने गए तो वह एमएलसी चुनाव नहीं लड़ेंगे. मुख्यमंत्री बने रहने के लिए ठाकरे के लिए एमएलसी चुना जाना आवश्यक है.

शिवसेना नेता संजय राउत ने रविवार को कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे यदि निर्विरोध नहीं जीते तो वह एमएलसी चुनाव नहीं लड़ेंगे. उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस पार्टी दो सीटों पर उम्मीदवार उतारने पर अड़ी है और इससे चुनाव की नौबत आएगी। राउत ने कहा कि इस सियासी ड्रामे से शिव सेना चीफ दुखी हैं. उन्होंने महाराष्ट्र कांग्रेस चीफ बालासाहेब थोराट को दूसरे उम्मीदवार का नाम वापस लेने के लिए संदेश भेजा है.

राउत ने स्पष्ट किया कि उद्धव ठाकरे चुनाव लड़ने से डर नहीं रहे हैं लेकिन मौजूदा स्थिति राजनीति लड़ाई की नहीं है. उन्होंने यह भी कहा कि 21 मई को 9 सीटों पर विधान परिषद चुनाव संवैधानिक और राजनीतिक संकट टालने की वजह से कराया जा रहा है.

गौरतलब है कि एक मुख्यमंत्री या मंत्री के लिए शपथ ग्रहण से छह महीने के भीतर विधानसभा या विधान परिषद का सदस्य बनना अनिवार्य होता है. उद्धव किसी सदन के सदस्य नहीं हैं और उनके लिए यह समयसीमा 28 मई को खत्म हो रही है.

शनिवार रात थोराट ने बीड जिले के पार्टी अध्यक्ष राजकिशोर मोदी का नाम दूसरे उम्मीदवार के रूप में घोषित की थी. भारतीय जनता पार्टी पहले ही चार उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर चुकी है. एनसीपी और शिव सेना ने दो-दो उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की है. कांग्रेस की ओर से भी दो उम्मीदवारों की घोषणा के बाद सत्ताधारी गठबंधन के उम्मीदवारों के बीच चुनाव की आवश्यकता पैदा हो गई थी.

Read more

पीएम केयर्स फंड को लेकर राहुल गांधी का हमला, कहा- "प्रधानमंत्री आश्वस्त करें कि इस फंड का का ऑडिट किया जाए"

News Byte

नई दिल्ली: कांग्रेस पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम केयर्स फंड को लेकर ट्वीट किया है. राहुल गांधी ने कहा है कि पीएम केयर्स फंड का ऑडिट किया जाना चाहिए और इस फंड को कहां,किस तरह खर्च किया गया इसकी जानकारी भी सार्वजनिक की जानी चाहिए. राहुल गांधी ने ट्वीट किया, "पीएम केयर्स फंड में बड़े पैमाने पर योगदान किया गया है. जिसमें पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग और रेलवे जैसे बड़े सार्वजनिक संस्थान शामिल हैं."

राहुल गांधी ने कहा, "यह बहुत महत्वपूर्ण है कि प्रधानमंत्री आश्वस्त करें कि इस फंड का का ऑडिट किया जाए और इस फंड को कहां-कहां, किस तरह खर्च किया गया है इसका रिकॉर्ड सार्वजनिक हो."

बता दें कि कोरोनावायरस महामारी के कब्जे में इस वक्त पूरी दुनिया है, हर देश COVID-19 यानी कोरोनावायरस महामारी से बचने और फैलने से रोकने के लिए हर संभव कोशिश कर रहा है. कोरोना से जंग लड़ने के लिए प्राइम मिनिस्टर सिटीज़न असिस्टेंस एंड रिलीफ इन इमरजेंसी सिचुएशन फंड (PM CARES Fund) की शुरूआत की गई है, जहां कोई भी कितनी भी राशि सरकार को इस महामारी से लड़ने के लिए डोनेट कर सकता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कहा है कि यह राशि आपदा प्रबंधन क्षमताओं की ताकत बनेगी और नागरिकों की रक्षा के अनुसंधान को प्रोत्साहित करेगी.

Read more

महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव में कांग्रेस की सहमति के बाद उद्धव ठाकरे का निर्विरोध चुना जाना तय

News Byte

मुंबई: महाराष्ट्र विधान परिषद की 9 सीटों के लिए 21 मई को होने वाले उपचुनाव में कांग्रेस के दो की बजाय एक प्रत्याशी खड़ा करने पर शनिवार को सहमत हो गई. इसके साथ ही राज्य विधायिका के उच्च सदन में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे समेत अन्य प्रत्याशियों के निर्विरोध चुने जाने का रास्ता साफ हो गया है. कांग्रेस के सूत्रों के अनुसार, पार्टी जालना जिला परिषद के सदस्य राजेश राठौड़ को प्रत्याशी के रूप में खड़ा करेगी.

इससे पहले कांग्रेस ने दो प्रत्याशियों को चुनाव मैदान में उतारने की घोषणा की थी लेकिन अब वह एक उम्मीदवार पर सहमत हो गई है जिसके बाद ठाकरे का विधान परिषद में जाने का रास्ता साफ हो गया है.

विधान परिषद के वर्तमान सदस्यों का कार्यकाल 24 अप्रैल को समाप्त होने के बाद नौ सीटें खाली हो गई थीं. सत्ताधारी गठबंधन महा विकास आघाडी ने अब तक राठौड़ समेत पांच उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की है.

विपक्षी दल भाजपा ने शुक्रवार को अपने चार उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की थी. ठाकरे राज्य विधायिका के किसी भी सदन के सदस्य नहीं हैं. शिवसेना ने ठाकरे के अतिरिक्त विधान परिषद की वर्तमान उपाध्यक्ष नीलम गोर्हे को प्रत्याशी बनाया है.

राकांपा की ओर से शशिकांत शिंदे और अमोल मितकारी उम्मीदवार हैं. भाजपा की ओर से रंजीत सिंह मोहिते पाटिल, गोपीचंद पडलकर, प्रवीण दटके और अजित गोपछाड़े उम्मीदवार हैं.

Read more