Image description
Image captions

वाइट हाउस: अमेरिका में कोरोना वायरस महामारी से ट्रम्प सरकार के लचीले रवैय्ये से पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को फटकार लगाई। ओबामा ने अमेरिकी प्रशासन के रवैये को "अराजक आपदा" करार दिया है। पूर्व राष्ट्रपति ने एक फोन कॉल पर बातचीत में ट्रंप सरकार द्वारा कोरोना वायरस के खिलाफ अपनाए गए तरीकों की तीखी आलोचना की और अमेरिका के नए राष्ट्रपति पद के लिए जो बाइडेन का समर्थन किया।

एक समाचार चैनल के मुताबिक, बराक ओबामा ने शुक्रवार को ओबामा अलुम्नाई असोसिएशन के उन 3000 लोगों से बातचीत की, जिन्होंने ओबामा के शासनकाल में काम किया था। इसी मीटिंग में ओबामा ने लोगों से अपील की कि वे राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रैट के संभावित उम्मीदवार जो बाइडेन का साथ दें।

एक प्राइवेट कॉल के 30 मिनट तक लोगों से बात करते हुए ओबामा ने कहा, "आने वाला चुनाव हर स्तर पर काफी अहम होने वाला है क्योंकि हम सिर्फ एक व्यक्ति या राजनीतिक पार्टी के खिलाफ नहीं लड़ रहे हैं। हम लंबे समय तक चलने वाले स्वार्थी होने, दूसरों को दुश्मन की तरह देखने, आपस में बंटे होने और अराजक होने के ट्रेंड के खिलाफ लड़ रहे हैं। हम वैश्विक स्तर पर भी यही देख रहे हैं।"

पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने आगे कहा, यही कारण है कि इस वैश्विक महामारी के खिलाफ हमारा जवाब इतना निराशाजनक और ठंडा है। "बाकी सब भाड़ में जाएं" वाली मानसिकता के साथ यह काफी अराजक आपदा जैसा हो गया है।' बराक ओबामा ने खुलकर कहा है कि आने वाले चुनाव में वह जो बाइडेन के लिए जमकर प्रचार करने वाले हैं।

बता दें कि कोरोना वायरस की वजह से अमेरिका की स्थिति बेहद खराब हो गई है, यहां रोजाना औसतन हजार से अधिक मौतें हो रही हैं और मृतकों की संख्या 78000 से अधिक हो चुकी है। इतना ही नहीं यहां संक्रमितों की संख्या भी दुनिया में सर्वाधिक 13 लाख से अधिक है।