Skip to main content

विदेश न्यूज़


कोरोना महामारी: दुनियाभर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 47 लाख के पार, अबतक तीन लाख से ज्यादा की मौत

News Byte

कोरोना विश्व: दुनियाभर में कोरोना वायरस से संक्रमित हुए लोगों का वैश्विक आंकड़ा अब 47 लाख के पार हो गया है. वहीं, महामारी की चपेट में आकर मरने वालों की संख्या भी तीन लाख 12 हजार को पार कर गई है. वर्ल्डोमीटर के मुताबिक, दुनियाभर में रविवार सुबह तक कुल 47 लाख 17 हजार 077 लोग कोविड-19 संक्रमण से संक्रमित हुए, जिनमें से मरने वालो की संख्या 3 लाख 12 हजार 384 रही. अच्छी बात यह है कि दुनियाभर में 1,810,099 लोग संक्रमण मुक्त भी हुए हैं.

 

जाने दुनिया में कहां कितने केस, कितनी मौतें

दुनियाभर के कुल मामलों में से करीब एक तिहाई मामले अमेरिका में सामने आए हैं और करीब एक तिहाई मौतें भी अमेरिका में हुई हैं. अमेरिका के बाद यूके में कोरोना ने सबसे ज्यादा कहर बरपाया है. जहां 34,466 लोगों की मौतों के साथ कुल 240,161 लोग वायरस से संक्रमित हो चुके हैं. जबकि यूके में मरीजों की संख्या स्पेन और रूस से कम है. इसके बाद इटली, फ्रांस, जर्मनी, टर्की, ईरान, चीन, ब्राजील, कनाडा जैसे देश सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं.

अमेरिका:           केस- 1,507,922              मौतें- 89,595

स्पेन:                  केस- 276,505                 मौतें- 27,563

रूस:                  केस- 272,043                 मौतें- 2,537

यूके:                   केस- 240,161                  मौतें- 34,466

इटली:                केस- 224,760                 मौतें- 31,763

ब्राजील:              केस- 233,142                  मौतें- 15,633

फ्रांस:                 केस- 179,365                  मौतें- 27,625

जर्मनी:               केस- 176,247                  मौतें- 8,027

टर्की:                  केस- 148,067                 मौतें- 4,096

ईरान:                 केस- 118,392                  मौतें- 6,937

10 देशों में एक लाख से ज्यादा केस

स्पेन, रूस, इटली, यूके, ब्राजील में कोरोना मामलों की संख्या दो लाख पार हो चुकी है. इनके अलावा चार देश ऐसे हैं जहां एक लाख से ज्यादा कोरोना केस हैं. अमेरिका के अलावा रूस और ब्राजील में भी कोरोना केस तेजी से बढ़ रहे हैं. पांच देश (अमेरिका, स्पेन, इटली, फ्रांस, ब्रिटेन) ऐसे हैं, जहां 25 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. अमेरिका में मौतों का आंकड़ा 89 हजार पार कर गया है. चीन टॉप-10 संक्रमित देशों की लिस्ट से बाहर हो चुका है.

Read more

कोरोना महामारी: दुनियाभर में कोरोना से तीन लाख से ज्यादा मौत, मरीजों की संख्या 45 लाख के पार

न्यूज़ बाइट

विश्व न्यूज़: देश दुनियाभर में कोरोना वायरस संक्रमण ने एक भयानक रूप ले चुका है, हाल यह है कि इससे संक्रमित लोगों की मौत का वैश्विक आंकड़ा तीन लाख के पार हो गया. अब तक इस महामारी की चपेट में 44.85 लाख से ज्यादा लोग आ चुके हैं, गुरुवार रात तक विश्व में कुल 44,89,482 लोग संक्रमित हो चुके हैं जिनमें से मरने वालों की संख्या 3,01,024 हो गई. हालांकि इनमें से 16,88,943 लोग इलाज के बाद ठीक भी हो चुके हैं.

दुनिया में कहां कितने केस, कितनी मौतें:
दुनियाभर के कुल मामलों में से एक तिहाई मामले अमेरिका में सामने आए हैं और एक तिहाई से ज्यादा मौतें भी अमेरिका में हुई हैं. अमेरिका के बाद यूके में कोरोना ने सबसे ज्यादा कहर बरपाया है. जहां 33,614 लोगों की मौतों के साथ कुल 233,151 लोग वायरस से संक्रमित हो चुके हैं. जबकि यूके में मरीजों की संख्या स्पेन और रूस से कम है. इसके बाद इटली, फ्रांस, जर्मनी, टर्की, ईरान, चीन, ब्राजील, कनाडा जैसे देश सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं.

अमेरिका: केस- 1,456,745,         मौतें- 86,900
स्पेन: केस- 272,646,                  मौतें- 27,321
रूस: केस- 252,245,                    मौतें- 2,305
यूके: केस- 233,151,                    मौतें- 33,614
इटली: केस- 223,096,                 मौतें- 31,368
ब्राजील: केस- 202,918,               मौतें- 13,993
फ्रांस: केस- 178,870,                  मौतें- 27,425
जर्मनी: केस- 174,975,               मौतें- 7,928
टर्की: केस- 144,749,                  मौतें- 4,007
ईरान: केस- 114,533,                 मौतें- 6,854
चीन: केस- 82,929,                    मौतें- 4,633

10 देशों में एक लाख से ज्यादा केस

इनके अलावा चार देश ऐसे हैं जहां एक लाख से ज्यादा कोरोना केस हैं. अमेरिका समेत इन दस देशों में कुल 32 लाख 53 हजार केस हैं. अमेरिका के अलावा रूस और ब्राजील में भी कोरोना केस तेजी से बढ़ रहे हैं. पांच देश (अमेरिका, स्पेन, इटली, फ्रांस, ब्रिटेन) ऐसे हैं, जहां 25 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. अमेरिका में मौतों का आंकड़ा 87 हजार पार कर गया है. चीन टॉप-10 संक्रमित देशों की लिस्ट से बाहर हो चुका है. भारत में जल्द ही चीन से ज्यादा कोरोना वायरस के मामले हो जाएंगे.

Read more

हो सकता है कि वायरस कभी ना जाए - WHO की बड़ी चेतावनी

News Byte

कोरोना वायरस से आज पूरी दुनिया त्रस्त है, देश की सरकार ने इसे फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन किया हुआ है. वैज्ञानिक इसका ईलाज ढूंढने के लिए दिन-रात मेहनत कर रहे हैं. इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन के कार्यकारी निदेशक ने संभावना जताई है कि कोरोना वायरस शायद कभी खत्म न हो, जैसे एचआईवी खत्म नहीं हुआ.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के कार्यकारी निदेशक डॉ. माइकल जे रियान ने बुधवार को कहा कि एचआईवी संक्रमण की तरह कोरोना वायरस दुनिया में हमेशा रहने वाला वायरस हो सकता है. यह वायरस कभी नहीं जाएगा. एक स्वास्थ्य आपातकाल के कार्यक्रम के दौरान उन्होंने मीडिया से कहा, "यह वायरस हमारे समुदायों में सिर्फ एक अन्य स्थिर वायरस बन सकता है और हो सकता है कि यह वायरस कभी खत्म ही न हो. एचआईवी भी अभी खत्म नहीं हुआ है."


डॉ. रियान ने कहा कि वह इन दोनों बीमारियों को तुलना नहीं कर रहे हैं लेकिन उन्हें लगता है कि हमें व्यावहारिक होना चाहिए. उन्होंने कहा, "मुझे नहीं लगता कि कोई भी ये बता सकता है कि ये बीमारी कब खत्म होगी. कोरना वायरस को रोकने के लिए लगे प्रतिबंध को हटाना अभी ठीक नहीं है, क्योंकि मामले अब भी अधिक आ रहे हैं. अगर प्रतिबंध हटा तो वायरस बड़े पैमाने पर फैलेगा, इसलिए आगे भी लॉकडाउन बढ़ाने की संभावना है."

प्रतिबंध हटाना, वायरस का फैलना:
विश्व स्वास्थ्य संगठन(WHO) के अधिकारी ने कहा, "अगर आप रोजाना कोरोना संक्रमितों की संख्या को न्यूनतम स्तर तक पहुंचा सकते हैं और वायरस को अपने समुदाय से बाहर कर सकते हैं, तब आपको लॉकडाउन खोलना चाहिए. इससे वायरस का फैलने का खतरा कम होगा. अगर आप ऐसी परिस्थितियों में लॉकडाउन या प्रतिबंध हटाते हैं तो वायरस तेजी से फैल सकता है."

कोरोना की वैक्सीन पर WHO का जवाब:
कोविड-19 की वैक्सीन को लेकर उन्होंने कहा, "हमारा लक्ष्य इस वायरस को खत्म करना है, लेकिन इसके लिए वैक्सीन को बनाना होगा, जोकी  बहुत ही प्रभावशाली होगी. इसे हम सबको साथ मिलकर बनाना है और इसका इस्तेमाल सबको करना है."

Read more

दुनिया भर में बढ़ता कोरोना का कहर, अबतक 42 लाख से ज्यादा संक्रमित, दो लाख 87 हजार की मौत

News Byte

कोरोना वायरस: देश और दुनियाभर में कोरोना वायरस का कहर तेजी से फ़ैल रहा है. कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. 212 देशों में पिछले 24 घंटे में 74,228 नए कोरोना के मामले सामने आए और मरने वाले लोगों की संख्या में 3,403 का इजाफा हो गया. वर्ल्डोमीटर के मुताबिक, दुनियाभर में अब तक 42 लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं. इनमें से 2 लाख 87 हजार 137 लोगों की मौत भी हो चुकी है. वहीं 15 लाख 26 हजार 975 लोग संक्रमण मुक्त भी हुए हैं. दुनिया के करीब 73 फीसदी कोरोना के मामले सिर्फ दस देशों से आए हैं. इन देशों में कोरोना पीड़ितों की संख्या करीब 31 लाख है.

दुनियाभर के कुल मामलों में से करीब एक तिहाई मामले अमेरिका में सामने आए हैं और करीब एक तिहाई मौतें भी अमेरिका में हुई हैं. अमेरिका के बाद यूके में कोरोना ने सबसे ज्यादा कहर बरपाया है. जहां 32,065 लोगों की मौतों के साथ कुल 223,060 लोग वायरस से संक्रमित हो चुके हैं. जबकि यूके में मरीजों की संख्या स्पेन से कम है. इसके बाद रूस, फ्रांस, जर्मनी, टर्की, ईरान, चीन, ब्राजील, कनाडा जैसे देश सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं.

अमेरिका: केस- 1,385,834,         मौतें- 81,795
स्पेन: केस- 268,143,                  मौतें- 26,744
यूके: केस- 223,060,                    मौतें- 32,065
रूस: केस- 221,344,                    मौतें- 2,009
इटली: केस- 219,814,                 मौतें- 30,739
फ्रांस: केस- 177,423,                   मौतें- 26,643
जर्मनी: केस- 172,576,                मौतें- 7,661
ब्राजील: केस- 169,143,               मौतें- 11,625
टर्की: केस- 139,771,                   मौतें- 3,841
ईरान: केस- 109,286,                  मौतें- 6,685
चीन: केस- 82,918,                     मौतें- 4,633
10 देशों में एक लाख से ज्यादा केस
 

स्पेन, इटली, यूके, रूस में कोरोना मामलों की संख्या दो लाख पार हो चुकी है. इनके अलावा छह देश ऐसे हैं जहां एक लाख से ज्यादा कोरोना केस हैं. अमेरिका समेत इन दस देशों में कुल 30 लाख 86 हजार केस हैं. अमेरिका के अलावा रूस और ब्राजील में भी कोरोना केस तेजी से बढ़ रहे हैं. पांच देश (अमेरिका, स्पेन, इटली, फ्रांस, ब्रिटेन) ऐसे हैं, जहां 25 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. अमेरिका में मौतों का आंकड़ा 81 हजार पार कर गया है. चीन टॉप-10 संक्रमित देशों की लिस्ट से बाहर हो चुका है.

Read more

कोरोना महामारी से अमेरिका की बुरी स्थिति पर ओबामा हुए नाराज, ट्रंप सरकार को लगाई फटकार

News Byte

वाइट हाउस: अमेरिका में कोरोना वायरस महामारी से ट्रम्प सरकार के लचीले रवैय्ये से पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को फटकार लगाई। ओबामा ने अमेरिकी प्रशासन के रवैये को "अराजक आपदा" करार दिया है। पूर्व राष्ट्रपति ने एक फोन कॉल पर बातचीत में ट्रंप सरकार द्वारा कोरोना वायरस के खिलाफ अपनाए गए तरीकों की तीखी आलोचना की और अमेरिका के नए राष्ट्रपति पद के लिए जो बाइडेन का समर्थन किया।

एक समाचार चैनल के मुताबिक, बराक ओबामा ने शुक्रवार को ओबामा अलुम्नाई असोसिएशन के उन 3000 लोगों से बातचीत की, जिन्होंने ओबामा के शासनकाल में काम किया था। इसी मीटिंग में ओबामा ने लोगों से अपील की कि वे राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रैट के संभावित उम्मीदवार जो बाइडेन का साथ दें।

एक प्राइवेट कॉल के 30 मिनट तक लोगों से बात करते हुए ओबामा ने कहा, "आने वाला चुनाव हर स्तर पर काफी अहम होने वाला है क्योंकि हम सिर्फ एक व्यक्ति या राजनीतिक पार्टी के खिलाफ नहीं लड़ रहे हैं। हम लंबे समय तक चलने वाले स्वार्थी होने, दूसरों को दुश्मन की तरह देखने, आपस में बंटे होने और अराजक होने के ट्रेंड के खिलाफ लड़ रहे हैं। हम वैश्विक स्तर पर भी यही देख रहे हैं।"

पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने आगे कहा, यही कारण है कि इस वैश्विक महामारी के खिलाफ हमारा जवाब इतना निराशाजनक और ठंडा है। "बाकी सब भाड़ में जाएं" वाली मानसिकता के साथ यह काफी अराजक आपदा जैसा हो गया है।' बराक ओबामा ने खुलकर कहा है कि आने वाले चुनाव में वह जो बाइडेन के लिए जमकर प्रचार करने वाले हैं।

बता दें कि कोरोना वायरस की वजह से अमेरिका की स्थिति बेहद खराब हो गई है, यहां रोजाना औसतन हजार से अधिक मौतें हो रही हैं और मृतकों की संख्या 78000 से अधिक हो चुकी है। इतना ही नहीं यहां संक्रमितों की संख्या भी दुनिया में सर्वाधिक 13 लाख से अधिक है।

Read more