Image description
Image captions

कोरोना वायरस को हराने के लिए भारत और तमाम देशों ने कमर कस ली है। भारत मे अभीतक कम्युनिटी ट्रांसमिशन जैसी स्टेज नही आई है। इसी बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के निदेशक डॉ. मायकल जे रायन ने कहा कि, "कोरोना वायरस का भविष्य में असर कैसा रहेगा ये भारत जैसे बड़ी संख्या वाली देशो की कार्यवाही पर तय होंगा"।

उन्होंने कहा कि, चीन की तरह भारत बड़ी जनसंख्या वाला देश है, कोरोना वायरस के दूरगामी परिणाम इस बात पर निर्भर करेंगे कि बड़ी संख्या वाले देश कोरोना को लेकर क्या कदम उठा लेते है।

रायन ने कहा कि, "भारत मे दो मूक बीमारी स्माल पॉक्स और पोलियो जैसे उन्मूलन में दुनिया का नेतृत्व किया है। भारत मे जबरदस्त क्षमता है, सभी देशों में काफी क्षमता है। जब समुदायों और समाज को जुटाया जाता हो, तो कोई भी लक्ष हासिल कर लिया जा सकता है।

बता दे कि भारत ने पोलिओ पे बडी लड़ाई लड़ी थी, और कुछ ही पलों में फतह भी हासिल कर ली थी।

आपको बता दे कि भारत मे अबतक कुल 500 के करीब कोरोना मरीज पाए गए है, और भारत अभी दूसरे स्टेज पर है। भारत अभी तीसरे स्टेज पर पहुचने के दूरी पर है, ऐसे में इस बिमारी पे अलर्ट रहना जरूरी है।