Skip to main content

नेशनल


NCB ने करन जौहर को समन भेजा; उनके घर हुई पार्टी के वायरल वीडियो पर जवाब मांगा.

News Byte
28 जुलाई 2019 को करन जौहर ने हाउस पार्टी होस्ट की थी। इसमें दीपिका, मलाइका, रणबीर समेत कई बॉलीवुड सेलेब्स पहुंचे थे।

बॉलीवुड ड्रग्स मामले की जांच कर रहे नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने फिल्म निर्माता करन जौहर को समन भेजा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, करन से उनके घर हुई पार्टी के वायरल वीडियो पर जवाब मांगा गया है। हालांकि, अभी यह साफ नहीं हुआ है कि उन्हें कब NCB ऑफिस में पूछताछ के लिए हाजिर होना है।

घर पर हुई पार्टी में मिली है क्लीन चिट

कुछ दिनों पहले करन जौहर के घर हुई पार्टी के वायरल वीडियो की दूसरी फॉरेंसिक रिपोर्ट भी नेगेटिव आई थी। वायरल वीडियो के आधार पर कहा जा रहा था कि करन के घर ड्रग्स पार्टी हुई थी। हालांकि, गुजरात के गांधी नगर की FSL ने वीडियो में नजर आ रही सफेद रंग की इमेज को रिफ्लेक्शन ऑफ लाइट (रोशनी के कारण बनी छवि) बताया था। वीडियो में किसी भी तरह के स्टफ की मौजूदगी से इनकार किया गया। FSL ने क्लीन चिट देते हुए रिपोर्ट में लिखा था कि वीडियो में ड्रग्स जैसा कोई भी पदार्थ या अन्य मटेरियल नहीं दिख रहा।

वीडियो की पहली फॉरेंसिक रिपोर्ट सितंबर के अंतिम सप्ताह में NCB को मिली थी। इस रिपोर्ट में वीडियो को वास्तविक बताया गया था। साथ ही इसमें किसी तरह की एडिटिंग से इनकार किया गया था।

2019 में करन के घर हुई थी पार्टी 28 जुलाई 2019 को करन जौहर ने हाउस पार्टी होस्ट की थी। इसमें दीपिका पादुकोण, मलाइका अरोड़ा, अर्जुन कपूर, शाहिद कपूर, वरुण धवन, जोया अख्तर, विकी कौशल, अयान मुखर्जी और रणबीर कपूर के साथ अन्य लोग मौजूद थे। पार्टी का वीडियो खुद करन जौहर ने शूट कर सोशल मीडिया पर डाला था। वीडियो वायरल होने के बाद इस पार्टी में ड्रग्स के इस्तेमाल के आरोप लगे थे।

विधायक सिरसा ने की थी शिकायत शिरोमणि अकाली दल के विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने पिछले साल मुंबई पुलिस कमिश्नर को एक पत्र लिखकर आरोप लगाया था कि करन जौहर की पार्टी में ड्रग्स का इस्तेमाल हुआ था। उन्होंने करन और पार्टी में मौजूद अन्य लोगों के खिलाफ नारकोटिक्स ड्रग्स और साइकोट्रोपिक पदार्थ अधिनियम 1985 के तहत मामला दर्ज करने की मांग की थी।

इसी साल जब सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद बॉलीवुड में ड्रग्स का मामला उछला तो सिरसा ने एनसीबी प्रमुख राकेश अस्थाना से मिलकर उनसे करन जौहर और अन्य कलाकारों के खिलाफ ड्रग पार्टी करने के मामले में शिकायत की थी। इसके बाद एनसीबी ने वीडियो को जांच के दायरे में लिया और इसकी फॉरेंसिक जांच कराई।

Read more

पीएम मोदी ने की किसानों से अपील, कृषि मंत्री तोमर ने किसानों को लिखी 8 पेज की चिट्ठी

News Byte

नई दिल्ली: देश में कृषि कानूनों के विरोध में पिछले 22 दिनों से दिल्ली के अलग अलग बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसानों के लिए केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने खुला पत्र लिखा है. आठ पन्नों के इस पत्र ने आज प्रदर्शनकारी किसानों के लिए भाजपा के बड़ी पहुंच के कार्यक्रम की शुरुआत की. पत्र एक पार्टी बैठक के बाद जारी किया गया था जिसमें उसके प्रमुख नेता केंद्रीय मंत्री अमित शाह, उनके कैबिनेट सहयोगियों पीयूष गोयल, निर्मला सीतारमण, नरेंद्र तोमर और पार्टी प्रमुख जेपी नड्डा ने भाग लिया था.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, "कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर जी ने किसान भाई-बहनों को पत्र लिखकर अपनी भावनाएं प्रकट की हैं, एक विनम्र संवाद करने का प्रयास किया है. सभी अन्नदाताओं से मेरा आग्रह है कि वे इसे जरूर पढ़ें. देशवासियों से भी आग्रह है कि वे इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाएं."

कृषि कानूनों को 'ऐतिहासिक' करार देते हुए तोमर ने कहा कि इन सुधारों को लेकर उनकी अनेक राज्यों के किसान संगठनों से बातचीत हुई है और कई किसान संगठनों ने इनका स्वागत किया है. उन्होंने कहा कि वह इससे बहुत खुश हैं और किसानों में एक नई उम्मीद जगी है. उन्होंने ने कहा, ''देश के अलग-अलग क्षेत्रों से ऐसे किसानों के उदाहरण भी लगातार मिल रहे हैं, जिन्होंने नए कानूनों का लाभ उठाना शुरू भी कर दिया है.''

उन्होंने कहा कि इन कृषि सुधार कानूनों का दूसरा पक्ष ये है कि किसान संगठनों में एक भ्रम पैदा कर दिया गया है. उन्होंने कहा, ''देश का कृषि मंत्री होने के नाते मेरा कर्तव्य है कि हर किसान का भ्रम दूर करूं. मेरा दायित्व है कि सरकार और किसानों के बीच दिल्ली और आसपास के क्षेत्र में जो झूठ की दीवार बनाने की साजिश रची जा रही है उसकी सच्चाई और सही वस्तु स्थिति आपके सामने रखूं.''

कृषि मंत्री के 8 आश्वासन:
  1. किसानों की जमीन को खतरा नहीं, मालिकाना हक उन्हीं का रहेगा.
  2. किसानों को तय समय पर भुगतान किया जाएगा
  3. तय समय पर भुगतान नहीं करने पर जुर्माना लगेगा 
  4. खुले बाजार में अच्छे दाम पर फसल बेचने का विकल्प
  5. MSP जारी है और जारी रहेगी
  6. मंडियां चालू हैं और चालू रहेंगी
  7. करार फसलों के लिए होगा, जमीन के लिए नहीं, किसान जब चाहें करार खत्म कर सकते हैं
  8. APMC मंडियां कानून के दायरे से बाहर हैं
Read more

कुतुब मीनार के भीतर 27 हिन्दू व जैन मंदिरों को तोड़ कर बनी मस्जिद : हिन्दुओं को मिले पूजा का अधिकार है

News Byte

नई दिल्ली:  दिल्ली की एक अदालत में क़ुतुब मीनार के भीतर मंदिर होने की बात कहते हुए वहाँ हिन्दुओं को पूजा का अधिकार दिलाने हेतु याचिका दाखिल की गई है। याचिका में दावा किया गया है कि क़ुतुब मीनार के भीतर ही हिन्दू और जैन मंदिर परिसर स्थित है। याचिका में कहा गया है कि अंदर 27 मंदिर हुआ करते थे, जिनमें मुख्य रूप से जैन तीर्थंकर ऋषभदेव के अलावा भगवान विष्णु प्रमुख रूप से स्थापित हैं। और इन्हीं मंदिरों को तोड़ कर ही मस्जिद का निर्माण किया गया।


इन दोनों के अलावा भगवान गणेश, शिव, माँ पार्वती, और हनुमान सहित अन्य देवी-देवताओं के कुल 27 मंदिर होने की बात कही गई है। याचिका में माँग की गई है कि इन सभी मंदिरों और प्रतिमाओं को न सिर्फ पुनः स्थापित किया जाए, बल्कि हिन्दुओं को ‘पूजा के अधिकार’ के तहत क़ुतुब मीनार परिसर में नियमित कर्मकांड और पूजा-पाठ की अनुमति दी जाए। ये इलाका दिल्ली के साउथ वेस्ट जिले में स्थित है।

 

याचिका में माँग की गई है कि कोर्ट केंद्र सरकार को ट्रस्ट एक्ट, 1882 के तहत एक ट्रस्ट का गठन करने का निर्देश दे, और उसे क़ुतुब मीनार परिसर में स्थित मंदिरों के प्रबंधन और प्रशासन की जिम्मेदारी सौंपे। साथ ही क़ुतुब मीनार के सामने परिसर में जो लोहे का पिलर स्थित है, उसे भी उन्हीं मंदिरों का एक हिस्सा मानते हुए ट्रस्ट को उसकी भी जिम्मेदारी देने की माँग की गई है। मीनार के भीतर कुव्वतुल इस्लाम मस्जिद है, उसे लेकर ही विवाद है। याचिका में माँग की गई है, “हिन्दुओं को वहाँ पूजा-पाठ, रीति-रिवाज और दर्शन के लिए उचित व्यवस्था देने के लिए कदम उठाए जाएँ। कुतुबुद्दीन ऐबक मोहम्मद गोरी का एक कमांडर था, जिसने ‘श्री विष्णु हरि मंदिर’ को ध्वस्त किया, उसे नुकसान पहुँचाया। उसने मंदिर परिसर में ही अवैध रूप से कई निर्माण शुरू किए।” याचिकाकर्ता का कहना है कि ये मंदिर वहीं, थे जहाँ कुव्वतुल इस्लाम मस्जिद बनाया गया है।


ये याचिका ‘जैन तीर्थंकर ऋषभ देव और भगवान विष्णु’ का प्रतिनिधित्व का दावा करते हुए दायर की गई है। कहा गया है कि मुगल पूरी तरह से इन मंदिरों को ध्वस्त करने में नाकाम रहे और उन्होंने इनके ही अवशेषों से मस्जिद का निर्माण कर दिया। याचिका में लिखा है, “मस्जिद की एक दीवार पर मंगल कलश, नटराज, शखं-गदा-कलश और श्री यंत्र सहित कई देवी-देवताओं की तस्वीरें अभी भी मौजूद हैं।”
साथ ही इस मस्जिद के कॉरिडोर का वैदिक शैली में निर्माण किए होने का दावा किया गया है। याचिका में ASI के ‘संक्षिप्त इतिहास’ में प्रकाशित तथ्यों के आधार पर ही इन 27 मंदिरों के होने का दावा किया गया है। कहा गया है कि मस्जिद के बाहर और भीतर की 9 संरचनाएँ ऐसी हैं, जो मंदिर के हिसाब से है। सरकार ने इसे ‘राष्ट्रीय महत्व का स्मारक’ घोषित कर रखा है। देश भर में करीब 30,000 मंदिरों को ध्वस्त कर उस पर मस्जिद बनाया गया, ऐसा कई विशेषज्ञ कहते हैं।

Read more

कोरोना अपडेट : लगातार 17 वें दिन 40 हजार से कम केस आए, रिकवरी रेट 94% के पार

News Byte

कोरोना अपडेट: देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या में तेजी से कमी आ रही है। मंगलवार को 26 हजार 251 नए केस आए, 33 हजार 853 मरीज ठीक हो गए और 383 की मौत हुई। इस तरह 8 हजार 8 एक्टिव केस कम हो गए। देश में अब तक 99.32 लाख केस आ चुके हैं। इनमें से 94.55 लाख मरीज ठीक हो चुके हैं। 1.44 लाख की मौत हुई है और 3.30 लाख मरीजों का इलाज चल रहा है।

हर दिन करीब 25-30 हजार केस आ रहे हैं। ऐसे में अगले तीन दिन में कुल संक्रमितों का आंकड़ा एक करोड़ के पार हो सकता है। ये आंकड़े covid19india.org से लिए गए हैं।

उत्तराखंड के हेल्थ सेक्रेटरी अमित नेगी बुधवार को कोरोना संक्रमित पाए गए। राज्य में अब तक 83 हजार 5 सौ 2 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें 6 हजार 89 मरीजों का इलाज अभी चल रहा है।

महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच महाराष्ट्र सरकार ने बड़ा फैसला किया है। राज्य में अब RT-PCR टेस्ट 700 रुपए में किया जाएगा। इससे पहले इसकी कीमत 980 रुपए थी।

दिल्ली AIIMS में हड़ताल पर गई नर्सिंग यूनियन ने एडमिनिस्ट्रेशन से चर्चा के बाद अपना फैसला वापस ले लिया। इससे पहले दिल्ली हाईकोर्ट ने हड़ताल पर रोक लगाते हुए नर्साें को काम पर लौटने के लिए कहा था।

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के फेफड़ों में संक्रमण बढ़ गया है। वे 5 दिसंबर को कोरोना पॉजिटिव आए थे। हालत में सुधार न होने की स्थिति में उन्हें रोहतक PGI से मेदांता शिफ्ट किया गया है।

5 राज्यों का हाल
दिल्ली:
यहां मंगलवार को 1617 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। 2343 लोग ठीक हुए और 41 की मौत हो गई। अब तक यहां 6 लाख 10 हजार 447 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 14 हजार 480 मरीजों का इलाज चल रहा है, जबकि 5 लाख 85 हजार 852 लोग ठीक हो चुके हैं।

मध्यप्रदेश: यहां पिछले 24 घंटे में 1073 केस आए। 1347 लोग ठीक हो गए और 13 मरीजों की मौत हो गई। यहां अब तक 2 लाख 25 हजार 709 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 2 लाख 9 हजार 768 ठीक हो गए, जबकि 3 हजार 425 की मौत हो गई। अभी 12 हजार 516 का इलाज चल रहा है।

गुजरात: यहां मंगलवार को 1110 लोग संक्रमित पाए गए। 1236 लोग ठीक हुए और 11 की मौत हो गई। अब तक 2 लाख 29 हजार 913 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 12 हजार 781 मरीजों का इलाज चल रहा है। 2 लाख 12 हजार 939 लोग अब तक ठीक हो चुके हैं, जबकि 4193 की मौत हो चुकी है।

राजस्थान: यहां पिछले 24 घंटे में 1045 केस आए। 1722 लोग ठीक हुए और 13 की मौत हो गई। अब तक 2 लाख 93 हजार 584 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 15 हजार 510 मरीजों का इलाज चल रहा है, जबकि 2 लाख 75 हजार 506 लोग ठीक हो चुके हैं, 2568 की मौत हो चुकी है।

महाराष्ट्र: यहां मंगलवार को 3442 लोग संक्रमित पाए गए। 4395 लोग ठीक हुए और 70 की मौत हो गई। अब तक 18 लाख 86 हजार 807 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 71 हजार 356 मरीजों का इलाज चल रहा है। 17 लाख 66 हजार 10 मरीज ठीक हो चुके हैं। संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या अब 48 हजार 339 हो गई है।

 

Read more

तमिलनाडु में सुपरस्टार्स का अलायंस : रजनीकांत से गठबंधन को तैयार कमल हासन

News Byte
तमिलनाडु में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं, राजनीति में सक्रिय दो सुपरस्टार कमल हासन और रजनीकांत एक-दूसरे के साथ आने की बात कह चुके हैं.


साउथ के दो सुपरस्टार तमिलनाडु की राजनीति में एक साथ आने को तैयार है. मक्कल नीधि मैयम (MNM) के चीफ कमल हासन ने मंगलवार को रजनीकांत के साथ आने के संकेत दिए. हासन ने कहा- हम बस एक फोन कॉल की दूरी पर हैं; अगर हमारी विचारधारा समान है और इससे लोगों को फायदा होगा, तो हम अपना ईगो एक तरफ रखने को तैयार हैं। हम एक-दूसरे की मदद करेंगे.


तमिलनाडु में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं, रजनीकांत से गठबंधन को लेकर मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए हासन ने कहा कि इस बारे में अब रजनीकांत को फैसला करना है. इसके बाद हम दोनों बैठकर इस पर चर्चा कर लेंगे.

इलेक्शन कैंपेन में जुटे हैं कमल हासन
कमल हासन ने पहले भी रजनीकांत के साथ गठबंधन करने के संकेत दिए थे। हासन ने 13 दिसंबर को अपना चुनाव कैंपेन शुरू किया था। 13 से 16 दिसंबर तक चलने वाले चार दिन के कैंपेन में कमल हासन मदुरै, थेनी, डिंडीगुल, विरुधनगर, तिरुनेलवेली, तूतीकोरन और कन्याकुमारी जिलों का दौरा करेंगे। हासन ने फरवरी 2018 में MNM पार्टी की लॉन्चिंग की थी। पार्टी ने 2019 का लोकसभा चुनाव भी लड़ा था, लेकिन उसे किसी सीट पर जीत नहीं मिली थी। पॉलिटिक्स में थलाइवा:रजनीकांत 31 दिसंबर को पार्टी का ऐलान करेंगे, तमिल राजनीति में छठे बड़े फिल्मी सितारे की एंट्री

सालभर पहले रजनी ने हासन से गठबंधन की बात कही थी
इधर, साउथ के दूसरे सुपरस्टार रजनीकांत 31 दिसंबर को अपनी पार्टी का नाम घोषित करने ऐलान कर चुके हैं। एक्टर ने 2021 का विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान भी किया। रजनीकांत ने भी पिछले साल एक्टर कमल हासन के साथ गठबंधन करने की बात कही थी। तब रजनीकांत ने कहा था कि राज्य की जनता के हितों को देखते हुए यदि कमल हासन के साथ गठबंधन करने की स्थिति बनती है, तो वे जरूर एक-दूसरे के साथ आएंगे।

तमिलनाडु की राजनीति में छठे एक्टर हैं रजनीकांत
रजनीकांत पिछले कई महीनों से राजनीति में सक्रिय हैं, लेकिन पहली बार उन्होंने सियासी पारी को लेकर अपने पत्ते खोले थे। पार्टी बनाने और विधानसभा चुनाव में उतरने के ऐलान के बाद तमिलनाडु की राजनीति में एक और एक्टर की एंट्री होगी। इससे पहले वहां फिल्मी कलाकार राजनीति में कामयाबी हासिल करते रहे हैं।

Read more